Wednesday, 24 June 2015

Kya Haal Hai Hamara ...


चल पडी है कश्तीयां समंदर, दूर है किनारा
इन मौजों से पूछ लेना क्या हाल है हमारा ?
अब हवाऐं करेंगी रोशनी का फ़ैसला,
जिस दिये में जान होगी, वो दिया रह जायेगा ॥


Monday, 22 June 2015

समंदर शायरी





दिल जित ले वो नजर हम भी रखते है,
भीड़ में नजर आये वो असर हम भी रखते है,
यु तो वादा किया है किसीसे मुस्कुराने का वरना आँखों में समंदर हम भी रखते है

Friday, 5 June 2015

Log hamein badnaam karte hain,


Kyon log hamein badnaam karte hain,
Mohabbat ko dushwari ka naam dete hain,
Hum kis tarah sunaayein haal-e-dil apna,
Wo to bas lafzon mein dard ka izhaar kar dete hain....