Wednesday, 20 May 2015

बेबफा लव शायरी


एक बेबफा के जख्मो पे मरहम लगाने हम गए
मरहम की कसम मरहम न मिला मरहम की जगह मर हम गए !

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.