Sunday, 22 February 2015

शेरो शायरी हिन्दी मे

हिन्दी शायरी

सुबह का हर पल ज़िंदगी दे आपको
दिन का हर लम्हा खुशी दे आपको
जहा गम की हवा छू कर भी न गुज़रे
खुदा वो जन्नत से ज़मीन दे आपको

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.